पुलिस कांस्टेबल भर्ती 2018 को लेकर सचिन पायलट ने लगाएं सरकार पर आरोप

पुलिस कांस्टेबल भर्ती 2018 को लेकर सचिन पायलट ने लगाएं सरकार पर आरोप

Sachin Pilot puts allegations against government constable for 2018 recruitment
सचिन पायलट फोटो
राजस्थान में चल रही पुलिस कांस्टेबल भर्ती 2018 मैं 2 दिन के लिए इंटरनेट सेवा बंद किए जाने पर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने BJP के द्वारा दिए गए नारे डिजिटल इंडिया को आईना दिखाया है . कांग्रेस की ओर कल एक जारी बयान में सचिन पायलट ने कहा कि राजस्थान प्रदेश की बीजेपी सरकार पुलिस कांस्टेबल भर्ती में नकल करवाने वालो को चिन्हित करने में विफल रह गई है
विफलताओं का खामियाजा प्रदेश के परीक्षार्थियों को भुगतना पड़ेगा. यह निर्णय सरकार का जनहित में माना नहीं जा सकता इंटरनेट सेवा पूरे दिन बंद करने से हॉस्पिटल, बैंक , ट्रांसपोर्ट, तथा जो भी ऑनलाइन कार्य नेट से चल रहा है उनकी सेवा बंद हो गई है परीक्षा के दौरान नेट बंद नहीं करना चाहिए परीक्षा केंद्र पर सरकार को जैमर लगा देना चाहिए था और जांच को मजबूत कर पारदर्शी तरीके से भी परीक्षा करवा सकती थी


सचिन पायलट ने कहा कि यह एक दुविधापूर्ण बात है कि सरकार ने लोगों की दुविधा कर के नेट बंद करके परीक्षा के अंदर होने वाली नकल घोटाले से साफ तौर पर अपना पल्ला झाड़ लिया है. यह इस बात का भी संकेत देता है कि सरकार नकल रोकने में बिल्कुल ही नाकाम रही मध्यप्रदेश में छत्तीसगढ़ में घोटालों के बाद भी भाजपा सरकार ने अभी तक समझ नहीं ली है और परीक्षा के दौरान परीक्षा केंद्र पर जो मूलभूत सावधानी बरतनी चाहिए थी वह नहीं बरती गई इस मामले में सरकार बिल्कुल ही नाकाम रही

सरकारी व गैर सरकारी कामकाज बंद
सचिन पायलट ने कहा कि भाजपा सरकार इंटरनेट सेवा बंद करके साफ तौर पर अपनी नाकामी पर पर्दा डाल देना चाहती है इंटरनेट सेवा बंद करना प्रदेश की जनता के अंदर विपरीत प्रभाव डाला गया है और सारे काम भी नेट के बिना बंद हो चुके हैं
आगे सचिन पायलट ने कहा कि BJP सरकार ने इंटरनेट बंद करने की राजनीति को अपनाकर अब यह साबित कर दिया है कि उनका डिजिटल इंडिया नारा केवल और केवल दिखावे के लिए है
तकनीकी के दुरुपयोग का इन्हें कोई नियंत्रण नहीं है

Leave a Reply