नवाज शरीफ को 10 साल की कैद लंदन में काली कमाई से 10 प्लेट का दोषी साथ ही बेटी को सात और दामाद को 1 साल कि कैद

नवाज शरीफ को 10 साल की कैद लंदन में काली कमाई से 10 प्लेट का दोषी साथ ही बेटी को सात और दामाद को 1 साल कि कैद 

Nawaz Sharif given 10-year jail

Nawaz Sharif given 10-year jail 

इस्लामाबाद . पाकिस्तान के नवाज शरीफ पनामा पेपर मामले में अपनी कुर्सी गंवाने वाला प्रधानमंत्री को शुक्रवार को कोर्ट से बड़ा झटका लगा है यह सजा पाकिस्तान की राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो अदालत ने नवाज शरीफ को सुनाई
भ्रष्टाचार करने के खिलाफ में उन्हें 10 साल की कठोर सजा सुनाई उन पर 8000000 पौंड लगभग 70 करोड रुपए का जुर्माना भी लगाया नबी का सहयोग नहीं करने पर भी उन्हें 1 साल की सजा मिली लेकिन उनके लिए अच्छी बात है दोनों सजाएं साथ चलेगी कोर्ट ने नवाज शरीफ की बेटी मरयम को भी नहीं छोड़ा और उनके साथ दामाद कैप्टन मोहम्मद जफर को भी जांच में शोक नहीं करने पर 1 साल की कैद सुनाई आपको बता दें कि मरयन भी 1 साल की है और साथ ही 20000 पौंड का जुर्माना भी लगाया गया
 

       नवाज शरीफ अभी लंदन में है

खबरों के मुताबिक इस समय नवाज शरीफ लंदन में है जो कि अपनी पत्नी बीमार है इसलिए इलाज करवाने गए हुए हैं और नवाज शरीफ के परिवार के खिलाफ दो और अन्य मामले भी चल रहे हैं
नवाज शरीफ की मुश्किलें बहुत बढ़ गई है क्योंकि फैसला भी ऐसे समय आया है जब 25 जुलाई को देश में आम चुनाव होने वाला है

ए नबी कोर्ट ने मामले में फैसला सुनाया है कि नवाज शरीफ के लंदन के पॉश इलाके में एवेनफील्ड स्थित 4 लग्जरी फ्लैट भ्रष्टाचार की कमाई लिए हुए हैं नवाज शरीफ ने यह फ्लैट 1993 से 1996 के बीच खरीदा था इस मामले में केवल नवाज शरीफ भी नहीं थे उनके साथ उनकी बेटी मरयम दामाद सफदर और उनके दो बेटे हसन और हुसैन सारा परिवार थे कोर्ट ने सारा लग्जरी फ्लैट को जप्त करने के आदेश दे दिए हैं

    पैमाना पेपर से उजागर हुआ भ्रष्टाचार

1. 2015 में पेपर लीक में सामने आया कि शरीफ और उसके परिवार ने ऑफशोर और कंपनी में निवेश किया था

2. हालांकि बाद में शरीफ और उनके परिवार ने यह बात कबूली कि उनके पास फ्लैट 1993 से खरीदे हुए हैं

3. शरीफ ने एवेनफिल्ड मामले में 1 हफ्ते के बाद फैसला सुनाने की अपील की थी

4. नवाज शरीफ ने चाहा था कि उनकी मौजूदगी में अदालत ने अपना फैसला सुनाए लेकिन ऐसा नहीं हुआ

अब मेन मुद्दा यह है की नवाज शरीफ को 10 साल की सजा हो गई बेटी को 7 साल और दामाद को 1 साल साथ ही साथ 73 करोड रुपए नवाज शरीफ पर जुर्माना और 4 फ्लेट जप्त कर लिए गए
और अभी थोड़े दिनों में ही 25 जुलाई को पाकिस्तान में आम चुनाव होने जा रहा है

इस मामले से इमरान को अच्छा लाभ मिल सकता है
बेटी दामाद और नवाज शरीफ की सजा सुनाते ही राजनीतिक लाभ आज इमरान खान को मिलता हुआ नजर आ रहा है चुनाव पूर्व संरक्षण में 25 जुलाई को होने जा रहे हैं पाकिस्तान में आम चुनाव मैं नवाज की पार्टी PML (N)  और इमरान खान की पार्टी तहरीक – ए – इंसाफ में कांटे की टक्कर होने की जनता अनुमान लगा रही है इसके चलते भी 1 साल के भीतर पूर्व क्रिकेटर इमरान खान की लोकप्रियता में 8 फ़ीसदी बढ़ोतरी दर्ज हुई है

          बाकी दो अन्य मामले

नवाज शरीफ के परिवार में अजीजिया स्टील मेल्स और हिल मेटल उन पर चल रहे हैं शरीफ के परिवार ने सऊदी अरब में जेद्दा में 7 अरब रुपए की पूंजी से इस कंपनी का निर्माण करवाया था चौकी 2010 से 15 के बीच में 99.77 ला अक्षर से 4.04 डॉलर नवाज शरीफ को भेजे गए थे

1. 1990 – से पहले नवाज शरीफ प्रधानमंत्री बने थे
2. 1949 – मैं नवाज शरीफ ने लाहौर के एक बड़े कारोबारी परिवार में जन्म लिया था
3. 1981 – मैं नवाज शरीफ पंजाब प्रांत के वित्त मंत्री भी रह चुके हैं
4. 1976 – मैं जुल्फिकार अली भुट्टो सरकार ने नवाज शरीफ के पारिवारिक चल रहे कारोबार का राष्ट्रीयकरण किया था उसके बाद में नवाज शरीफ ने भी राजनीति की शरण ले ली और पाकिस्तान मुस्लिम लिंक पार्टी में शामिल हो गए
5. 1985 – मैं पंजाब के मुख्यमंत्री बने पीएमएल टूटने के कारण नवाज शरीफ ने पाकिस्तान लिंक नवाज का गठन किया था
6. 1997 – जबकि 1997 में वह दूसरे बार प्रधानमंत्री बने और परमाणु परीक्षण भी किया था
7. 1993 – प्रधानमंत्री पद से हटाए गए थे सुप्रीम कोर्ट ने इन्हें बेहाल किया दबाव में तेरी इस्तीफा देना पड़ा

Leave a Reply