तबाही बारिश की ! दर्जनों घरों की छत गिरी, सरकारी संपत्ति को भारी नुकसान

share ganganagar, rajasthan news, weather news, Rajasthan weather, jodhpur weather, Khinwsar weather, Dhandhora weather, monsoons,
श्रीगंगानगर . यह खबर है श्रीगंगानगर के रायसिंहनगर इलाके की इलाके की जहां पर मानसून की बारिश में तबाही मचा दी
यह तबाही की बारिश शनिवार रात को 12:00 बजे के करीब शुरू हुई जहां पर भारी बरसात के कारण भारी नुकसान हुआ

इस बारिश से लोगों के घरों की छत गिर गई  तो गई कई लोगों के घरों की दीवार जबकि खुशी की बात यह है वहां पर कोई बड़ी दुर्घटना नहीं हुई किसी को कोई चोट वगैरह नहीं लगी
जबकि इलाके के ग्राम पंचायत सांवतसर में दुखद खबर मिली है वहां पर एक दीवार गिरने से करीब आधा दर्जन भेड़ नीचे दबने से मौत हो गई

रात भर हुई बारिश के लोगों के मकान गिरना भी कोई छोटा नुकसान नहीं है यह भी एक बहुत बड़ा नुकसान हुआ है इस पर प्रशासन ने एहतियात के तौर पर गांव वालों को ग्राम पंचायत में रहने का निर्देश दिए साथ ही साथ कच्चे मकान वाले लोगों को सावधानी बरतने के निर्देश भी दिए


ग्राम पंचायत में रोड,  सामुदायिक भवन की दीवारें गिरने के भी समाचार सामने आए और मोहल्ला में कई जगह पर गड्ढों में पानी भर गया
जिला कलेक्टर के निर्देश आने के बाद पंचायत समिति अधिकारी सुनील कुमार ढाका ने ग्राम पंचायत मैं कार्य करता वह कर्मचारियों को मौके पर वहीं मौजूद रहने के लिए कहा गया

खबर ग्रामीण इलाका श्यामगढ़ मे करीब करीब आधा दर्जन मकान  ज्यादा बारिश गिरने के समाचार है वही आस-पास के गांव सावंतसर, गंगूवाला, कुम्भारांवाली, सहित के गांव के लोगों को मकान गिरने का नुकसान उठाना पड़ा
गांव में पंचायत समिति द्वारा रोड़ों को तोड़कर पानी निकालने का प्रयास लगातार किया जा रहा ह लेकिन भारी बारिश के कारण  पानी भी कम नहीं है भारी तादाद में पानी भरा हुआ है जो कि जल्दी से खाली करना नामुमकिन लग रहा है
लेकिन प्रकाशन इन सारी घटनाओं पर लगातार नजर रख रहा है

उधर खबर जोहड़ गांव की है जहां पर दो मासूमों की मौत हो चुकी है टोडा / नीमकाथाना मैं स्तित  ढाणी नाईबाला शनिवार को जोहड़ में डूबने से मौत हो गई यह दोनों बच्चे स्कूल की छुट्टी होने के बाद करीब दोपहर को घर पहुंचे तथा बारिश के मौसम में खेलने निकले पर बारिश का पानी ईकठा होने के कारण  मनोज और बबीता नाम के लड़के पानी में डूब गए जिसके कारण मौत हो गई

इस घटना की जानकारी गांव वालों को मिलते ही वह मौके पर पहुंचे और बच्चों को बाहर निकाला लेकिन उस समय बहुत देर हो गई तो उसके बाद गांव वालों ने अस्पताल में भी लेकर गए जहां पर होने मृत घोषित कर दिया गया

Leave a Reply